BUSINESS NATIONAL

रिज़र्व बैंक ने RTGS 24×7 को आरंभ किया

रिज़र्व बैंक ने 09 अक्टूबर 2020 को विकासात्मक और नियामक नीतियों पर वक्तव्य में घोषणा की थी कि तत्काल सकल निपटान प्रणाली-Real Time Gross Settlement System (RTGS) वर्ष के सभी दिनों में चौबीसों घंटे उपलब्ध रहेगा। तदनुसार, आरटीजीएस 24x7x365 14 दिसंबर 2020 को 00:30 बजे से प्रभावी होगा। भारत, वर्ष में चौबीसों घंटे आरटीजीएस प्रणाली को परिचालित करने वाला दुनिया के कुछ देशों में से एक बन जाएगा। यह रिज़र्व बैंक द्वारा  NEFT 24×7 के परिचालन के एक वर्ष के भीतर आया है।

RTGS, जिसने 26 मार्च 2004 को चार बैंकों को शामिल करते हुए एक सौम्य आरंभ के साथ अपना परिचालन शुरू किया, वर्तमान में 237 प्रतिभागी बैंकों में ₹4.17 लाख करोड़ के मूल्य के लिए प्रतिदिन 6.35 लाख लेनदेन को हैंडल करता है। नवंबर 2020 में आरटीजीएस के लिए औसत टिकट का आकार ₹57.96 लाख था जो इसे वास्तव में बृहद मूल्य वाली भुगतान प्रणाली बनाता है। आरटीजीएस आईएसओ 20022 प्रारूप का उपयोग करता है जो वित्तीय लेनदेन के लिए सर्वोत्तम संदेश (मैसेजिंग) मानक है। लाभार्थियों के खातों में क्रेडिट के लिए सकारात्मक पुष्टि की सुविधा भी आरटीजीएस में उपलब्ध है।

आरटीजीएस की चौबीसों घंटे उपलब्धता भुगतानों को करने के लिए कारोबारों को विस्तारित लचीलापन प्रदान करेगी और सहायक भुगतान प्रणालियों में अतिरिक्त निपटान चक्रों को आरंभ करने में सक्षम बनाएगी। भारतीय वित्तीय बाजारों के परिचालनों और सीमापार भुगतान को बढ़ाने के लिए भी इसका उपयोग किया जा सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *