Others

Pukhraj Stone: जानें पुखराज रत्न किसे और कब पहनना चाहिए, क्‍या होते हैं इसके फायदे नुकसान

पुखराज एल्यूमीनियम और फ्लोरीन का एक सिलिकेट खनिज है जिसका रासायनिक सूत्र Al2[SiO4][OH]0.25F1.75 है। इसका उपयोग गहनों और अन्य अलंकरणों में रत्न के रूप में किया जाता है। अपनी प्राकृतिक अवस्था में आम पुखराज रंगहीन होता है, हालांकि सूक्ष्म तत्वों की अशुद्धियाँ इसे हल्का नीला या सुनहरा भूरा से पीला नारंगी बना सकती हैं। पुखराज को अक्सर गहरा नीला, लाल-नारंगी, हल्का हरा, गुलाबी या बैंगनी बनाने के लिए गर्मी या विकिरण के साथ इलाज किया जाता है।

ग्रह जब अपनी चाल बदलते हैं, तो इसका प्रभाव मनुष्य के जीवन में पड़ता है। ज्योतिष शास्त्र में नव ग्रहों के बारे में बताया गया है। इन सभी का मनुष्य के जीवन पर प्रभाव रहता है। ये अलग-अलग फल भी मनुष्य के जीवन मे प्रदान करते हैं। ज्योतिष में रत्न सभी ग्रहों के हिसाब से बताए गए हैं। राशि और ग्रह के अनुसार रत्न धारण करने से ग्रहों को अनुकूल किया जा सकता है, साथ ही मानव जीवन मे आने वाली समस्याओं को कम किया जा सकता है। रत्न धारण करने से जीवन में सुख-समृद्धि, सफलता के मार्ग भी प्रशस्त होते हैं। इन्हीं रत्नों में से एक है ‘पुखराज रत्न’। पीले रंग का ये रत्न बृहस्पति ग्रह का प्रतिनिधित्व करता है। जिन लोगों की कुंडली में बृहस्पति अनुकूल ना हो, उनके लिए पुखराज बहुत ही शुभ फल दाई माना जाता है। इसे धारण करने से विवाह धन-संपत्ति और मान-सम्मान में उचित फल प्राप्त होता है।


कौन सी राशि के लोग धारण कर सकते हैं पुखराज

मिथुन, कन्या, वृषभ राशि के जातकों के लिए पुखराज रत्न पहनना शुभ होता है। धनु व मीन राशि वालों की भाग्यवृद्धि के लिए यह रत्न बहुत उपयोगी माना गया है। साथ ही वृष, मिथुन, कन्या, तुला, मकर व कुम्भ लग्न वाले लोगों को पुखराज नहीं पहनना चाहिए। रत्न को राशि के अनुसार पहनना ही उत्तम माना गया है। पुखराज को हमेशा कुंडली में बृहस्पति की स्थिति के अनुसार ही धारण करना चाहिए।

पुखराज पहनने के फायदे

पुखराज बृहस्पति ग्रह का रत्न होता है इसलिए यह रत्न धारण करने से धन-संपत्ति में वृद्धि होती है। बृहस्पति की प्रतिकूल स्थिति के कारण जिनके विवाह में रुकावटे आ रही हैं, उनके लिए पुखराज धारण करना फायदेमंद रहता है। इस रत्न को धारण करने से कमजोर पाचन में भी फायदा मिलता है। इसके अलावा आध्यात्मिक वा धार्मिक विषयों में रुचि रखने वालों के लिए भी पुखराज फायदेमंद रहता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.