HEALTH

Health Tips: भोजन में करें दही-छाछ शामिल, ग्रीन टी का करें सेवन

प्रतिदिन सुबह के भोजन में घर में जमा हुआ ताजा दही शामिल करें ऐर यदि दही नहीं खाना है तो छाछ जरूर पिएं। ग्रीन टी सेहत के लिए बहुत हितकारी होती है। इसे पीने से शरीर हल्का होता है और शरीर के विशैले तत्व भी बाहर निकलते हैं।

दीपावली पर अक्सर लोग ओवर इटिंग का शिकार हो जाते हैं जिससे बदहजमी, दस्त, कब्ज आदि की समस्या भी हो जाती है। इसके अलावा शरीर में तेल, शर्करा की मात्रा भी बढ़ जाती है। ऐसे में जरूरी है कि शरीर के विशैले तत्व बाहर किए जाएं ताकि शरीर स्वस्थ रहे।

आहार व पोषण विशेषज्ञ डा. आरती मेहरा के अनुसार शरीर के विशैले तत्व बाहर करने में दही या छाछ भी बहुत सहायक होता है। दही पेट को हल्का रखने में मदद कर सकता है। दही खाने से पाचन तंत्र मजबूत होता है। गैस और अपच आदि की समस्या दूर करने में मदद मिलती हैं। दही में फैट की मात्रा बहुत कम होती है और यह शरीर से विषाक्त पदार्थों को बाहर निकालने में मदद करता है। छाछ में जीरा, नमक और काली मिर्च डाल उसका सेवन करना भी लाभकारी होता है। प्रतिदिन सुबह के भोजन में घर में जमा हुआ ताजा दही शामिल करें ऐर यदि दही नहीं खाना है तो छाछ जरूर पिएं। इससे शरीर को कैल्शियम और प्रोटीन भी मिलेगा।

ग्रीन टी सेहत के लिए बहुत हितकारी होती है। इसे पीने से शरीर हल्का होता है और शरीर के विशैले तत्व भी बाहर निकलते हैं। ग्रीन टी में तुलसी और पुदीना डालकर पीने से कोलेस्ट्राल कम होने में मदद मिलती है और रोग प्रतिरोधक क्षमता भी कम होती है। पर ग्रीन टी का सेवन सीमित मात्रा में ही करना चाहिए। नींबू शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है। इसके सेवन से शरीर में स्फूर्ति रहती है। नींबू में विटामिन सी होता है जिससे रोग प्रतिरोधक क्षमता बेहतर होती है। यह शरीर को डिटाक्स करने में भी मददगार होता है। नींबू का सेवन करने के लिए इसको पानी में डालकर पी सकते है। अगर आपके गैस, अपच और एसिडिटी की समस्या हैं, तो ऐसे में नींबू पानी एक अच्छा विकल्प हो सकता है। रोग विशेष होने पर इन पदार्थों का सेवन चिकित्सकीय परामर्श से ही करना चाहिए।

Leave a Reply