Delhi

देश का विकास किसानों के विकास के बिना संभव नहीं -पीयूष गोयल

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने आज स्पष्ट रूप से कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत सरकार किसानों और किसान मुद्दों के प्रति पूर्णतः संवेदनशील है। सरकार को किसानों से कृषि कानूनों पर अब तक न तो कोई ठोस प्रस्ताव मिला है और ना ही किसान नेता यह स्पष्ट कर पाए हैं कि यह नया कृषि कानून किस तरह से उनके खिलाफ है। प्रदेश भाजपा कार्यालय में आयोजित प्रेसवार्ता के दौरान प्रदेश भाजपा अध्यक्ष आदेश गुप्ता, प्रदेश महामंत्री कुलजीत सिंह चहल और मीडिया प्रमुख नवीन कुमार भी उपस्थित थे।

पीयूष गोयल ने कहा कि कोई भी कानून देशभर के लिए बनाया जाता है। किसी एक वर्ग के विरोध के कारण उससे होने वाले लाभ से किसानों के बड़े वर्ग को वंचित नहीं किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि सरकार ने किसानों के हित के लिए ही कृषि कानून बनाया है। विपक्ष किसानों के एक वर्ग को भ्रमित करने में सफल रहा है, लेकिन सरकार उनसे भी बातचीत कर रही है। सरकार की ओर से इन किसानों की तारीख पर तारीख नहीं, बल्कि प्रस्ताव पर प्रस्ताव दिए जा रहे हैं।

पीयूष गोयल ने कहा कि वर्ष 2021-22 के आत्मनिर्भर बजट में भी किसानों के लिए बहुत सारी योजनाएं रखी गई हैं। देश का विकास किसानों के विकास के बिना संभव नहीं है। उन्होंने गत 26 मार्च को लाल किला पर हुए राष्ट्रीय झंडे के अपमान की निंदा करते हुए कहा कि अब हमें आगे बढ़कर समस्याओं के निवारण का प्रयास करना चाहिए। एक अन्य प्रश्न के उत्तर में श्री गोयल ने कहा कि पश्चिम बंगाल में इस बार सत प्रतिशत परिवर्तन आएगा और राज्य में भाजपा सरकार बनने में किसी को संदेह नहीं होना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *