NATIONAL POLITICAL

#BharatKeAgniveer देश में Reform, Perform और Transform नहीं होगा तो हमारा भारत ‘महान’ कैसे बनेगा!

नरेन्द्र मोदी देश को Reform, Perform और Transform के पथ पर अग्रसर कर रहे हैं

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ संबित पात्रा ने आज रविवार को पार्टी के केंद्रीय कार्यालय में आयोजित एक प्रेस वार्ता को संबोधित किया और अग्निपथ पर सेना के तीनों अंगों की संयुक्त प्रेस वार्ता के एक-एक बिंदु की सराहना करते हुए कांग्रेस एवं उसके सहयोगियों की युवाओं को बरगलाने और गुमराह करने की राजनीति को लेकर जमकर हमला बोला।

डॉ पात्रा ने कहा कि आज जिस प्रकार सेना के तीनों अंगों के वरिष्ठ अधिकारियों ने संयुक्त प्रेस वार्ता कर के अग्निपथ योजना को विस्तार में समझाया है, इससे अब किसी को भी अग्निपथ के संदर्भ में कोई संशय नहीं रहना चाहिए। यह कहते हुए हमें अपार दुःख हो रहा है कि जिन विषयों पर राजनीति होनी नहीं चाहिए, राष्ट्र नीति के उन विषयों पर भी विपक्ष निचले स्तर की राजनीति कर रहा है और हमारी सेना के वरिष्ठ अधिकारियों को सामने आकर समझाना पड़ रहा है। सेना के अधिकारियों को यह समझना पड़ रहा है कि आगजनी और हिंसा के लिए इस देश में कोई स्थान नहीं है। हिंसा मत करिए।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि यदि देश में रिफॉर्म, परफॉर्म और ट्रांसफॉर्म नहीं होगा तो हमारा भारत ‘महान’ कैसे बनेगा! आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी अहर्निश काम करके देश को Reform, Perform और Transform के पथ पर अग्रसर कर रहे हैं, अग्निपथ पर युवाओं को सशक्त बनाने का संकल्प ले रहे हैं ताकि हमारा देश आगे बढ़ सके, मेरा भारत महान बन सके तो फिर राष्ट्रनीति को कुछ लोग हजम क्यों नहीं कर पा रहे? इन विषयों पर भी राजनीति क्यों हो रही है? विपक्ष अपना रास्ता भटक चुका है।

डॉ पात्रा ने कहा कि अग्निपथ पर राजनीति तो कतई नहीं होनी चाहिए। अग्निपथ योजना का एक प्रमुख उद्देश्य यह है कि हिंदुस्तान की सेना युवा चेहरे के साथ सामने आये। आज सेना के तीनों अंगों के वरिष्ठ अधिकारियों ने इस योजना के एक-एक बिंदु पर विस्तार से चर्चा की है। अग्निपथ योजना विस्तृत अध्ययन करने के बाद लाई गई है। 1989 से ही इस तरह की योजना पर बातचीत शुरू हुई थी। श्रीलंका वॉर और कारगिल की लड़ाई के बाद भी सेना के ‘यूथ प्रोफाइल’ को लेकर चर्चा हुई थी। कारगिल युद्ध के बाद कारगिल रिव्यू कमिटी में भी सेना की औसत उम्र को कम करने पर विशेष जोर दिया गया था। वर्तमान में सेना में औसत उम्र 32 साल है और अग्निपथ योजना को लागू करने के बाद औसत उम्र 26 साल पर आ जायेगी। जो विषय इतने वर्षों से चला आ रहा है, जिस पर काम पहले ही शुरू हो जाना चाहिए था, आज उस विषय पर सोनिया गाँधी, राहुल गाँधी और प्रियंका वाड्रा राजनीति कर रही है, यह समझ से परे है।

Sambit Patra National Spokesperson of BJP

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि जब हमारी वायुसेना के पास विमान नहीं थे, 10 वर्षों तक तबकी कांग्रेस सरकार ने वायुसेना में एक भी विमान नहीं जोड़ा। 10 वर्षों तक कांग्रेस की सरकार में हमारी सेना कम क्षमता के साथ काम करने को मजबूर थी। जब हम रॉफेल लेकर आए तो उसमें भी कांग्रेस ने राजनीति की। उसका क्या हश्र हुआ, यह हम सबने देखा है। ठीक इसी प्रकार, आज अग्निपथ को लेकर राजनीति हो रही है। कांग्रेस के उस समय के रक्षा मंत्री एके एंटनी का एक ही मंत्र था No Work, No Headache. एक बार जब उनसे संसद में सवाल पूछा गया कि आप बॉर्डर इंफ्रास्ट्रक्चर क्यों नहीं बनाते, तो उन्होंने कहा कि जो हमसे ज्यादा शक्तिशाली देश हैं, वे बुरा मान जाएंगे, इसलिए हम इंफ्रास्ट्रक्चर नहीं बनाते। कांग्रेस ने अपने शासनकाल में न तो एयरफ़ोर्स में प्रोक्योरमेंट किया और न ही रक्षा क्षेत्र में आवश्यक सुधार हेतु अनुशंसाओं पर ही ध्यान दिया गया। आज जब रक्षा क्षेत्र में जरूरी सुधार किये जा रहे हैं तो उस पर भी कांग्रेस राजनीति कर रही है।

डॉ पात्रा ने कहा कि चार साल बाद जो 75% अग्निवीर बाहर आयेंगे, उनके लिए जिस तरह से गृह मंत्रालय, रक्षा मंत्रालय और राज्य सरकारों ने कार्य योजना बनाई है, वह यह दर्शाता है कि श्री नरेन्द्र मोदी सरकार, भारतीय सेना और भाजपा की राज्य सरकारें युवाशक्ति के लिए किस तरह समर्पित भाव से काम कर रही है। लेकिन, दूसरी ओर, देश में कुछ ऐसे लोग हैं जो इतने निम्न स्तर की बयानबाजी कर रहे हैं जो दिल को दहलाने वाले हैं। कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह युवाओं के लिए ‘सूट टू किल’ की बात कर रहे हैं तो कांग्रेस के राजस्थान के एक नेता बयान दे रहे हैं कि युवा नक्सली बन जायेंगे। झारखंड के कांग्रेस के एक विधायक इरफ़ान अंसारी तो यहाँ तक धमकी दे रहे हैं कि देश खून से लथपथ होगा। कांग्रेस पार्टी को देश के युवाओं पर भरोसा नहीं है, आर्मी पर भरोसा नहीं है। कांग्रेस पार्टी के मन में युवाओं के प्रति इस प्रकार की भावना है! क्या देश की सेना के लिए काम करना खून से लथपथ होना है, क्या देश की सेना के लिए काम करना नक्सली बनना है?

कांग्रेस नेता प्रियंका वाड्रा पर जोरदार हमला बोलते हुए भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि प्रियंका वाड्रा ने आज तथाकथित सत्याग्रह में युवाओं से अपील करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी का एक ही मकसद है – श्री नरेन्द्र मोदी सरकार को गिराना, उसे ख़त्म करना। स्पष्ट है कि कांग्रेस पार्टी का मकसद देश की सेना की चिंता नहीं है, जनता की चिंता नहीं है, युवाओं की चिंता नहीं है बल्कि युवाओं को बरगलाना और गुमराह करना ही कांग्रेस पार्टी का एकमात्र मकसद है। जनता कांग्रेस को बार-बार नकार चुकी है, युवा उन्हें नकार चुके हैं लेकिन कांग्रेस का एकमात्र मकसद अब देश में अस्थिरता और अशांति फैलाना है। ये वही लोग हैं जिन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक और एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाये थे। उस वक्त भी भारतीय सेना को सामने आकर समझाना पड़ा था। डोकलाम के वक्त भी राहुल गाँधी चीनी दूतावास में रात के अँधेरे में पाए गए थे। सेना, देश की सुरक्षा और गरीब कल्याण की नीतियों पर हम सबको एक राजनीतिक दल के रूप में नहीं, एक भारतीय के रूप में एकजुट होकर खड़े रहना चाहिए।

डॉ पात्रा ने कहा कि मैं कांग्रेस पार्टी को सपष्ट कर देना चाहता हूँ कि युवाओं पर हमारे यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी और भारतीय सेना को इतना भरोसा है कि उन्होंने अग्निपथ के माध्यम से देश की सुरक्षा की पूरी बागडोर ही युवाओं के हाथ सौंप दी है। कांग्रेस के नेता जान लें कि हमारे युवा न नक्सल थे और न नक्सल बनेंगे। कांग्रेस पार्टी ने इसी तरह JAM (जन-धन, आधार और मोबाइल) को लेकर भी लोगों को भड़काया था और वैक्सीन को भी लेकर भड़काया था। आज यदि JAM नहीं होता तो लाभार्थियों के एकाउंट में बिना बिचौलिए के उनका हक़ नहीं पहुंचता, भ्रष्टाचार पर अंकुश नहीं लगता। आज यदि वैक्सीन को लेकर प्रधानमंत्री जी कार्ययोजना नहीं बनाते तो आज भारत कोरोना से सुरक्षित नहीं होता।

भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि सेना राजनीति का प्लेटफॉर्म नहीं है। सेना का एक ही मकसद है – देश की रक्षा करना। इसमें हिंसा, आगजनी, राजनीति और व्यक्तिगत भलाई का कोई स्थान नहीं है। भारतीय सेना के साथ हम सभी देशवासी एकजुट होकर खड़े हैं। प्रियंका वाड्रा जी, आपका एकमात्र मकसद श्री नरेन्द्र मोदी सरकार को गिराना है लेकिन माननीय प्रधानमंत्री जी के नेतृत्व में हमारा एकमात्र मकसद हिंदुस्तान को आगे बढ़ाना, युवाओं को और सशक्त बनाना तथा देश की सुरक्षा को मजबूत करना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.