Others

41 वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला-2022 ट्रेड-फेयर का उद्घाटन- थीम वोकल फॉर लोकल, लोकल टू ग्लोबल थीम पर है आधारित

41वें भारत अन्तर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में उत्तर प्रदेश मंडप का प्रदेश के मुख्य सचिव ने किया उद्घाटन

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली के प्रगति मैदान में 14 नवंबर से इंडिया ट्रेड प्रमोशन ऑर्गेनाइजेशन आईटीपीओ की तरफ से 41 वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेला-2022 ट्रेड-फेयर का आयोजन किया गया।
इस अवसर पर उत्तर प्रदेश मंडप का उद्घाटन उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव दुर्गाशंकर मिश्र जी द्वारा फीता काटने के उपरांत दीप प्रज्वलित कर किया गया इसके उपरांत अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मेले के ओ.डी.ओ.पी पवेलियन में लगाये गये हस्त निर्मित उत्पादों के स्टॉल्स का दृष्यावलोकन करते हुए कारीगरों एवं हस्तशिल्पियों से बात की।
मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र जी ने उत्तर प्रदेश मंडप के स्टॉल्स का दृष्यावलोकन करने के उपरांत प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए बताया कि उत्तर प्रदेश में 16 तारीख को ऑनलाइन ट्रेड फेयर भी होने जा रहा है जिसमें यहीं बैठे-बैठे बनारस, जौनपुर, बांदा में कहीं भी आप एक जगह बैठकर अर्थात हमारे उत्तर प्रदेश के प्रोडक्ट को ऑनलाइन देखते हुए ऑनलाइन ऑर्डर भी कर सकते हैं।

मुख्य सचिव ने बताया कि उत्तर प्रदेश में अलग-अलग क्षेत्रों में जैसे बुंदेलखंड का क्षेत्र हो या पश्चिम का क्षेत्र हो या रुहेलखंड का क्षेत्र हो प्रत्येक क्षेत्र में अलग-अलग तरह के व्यंजन है जहां की मिठाइयां, नमकीन आदि चीजें अर्थात वस्तुओं का फूड फेस्टिवल रखा गया है जिसके द्वारा उत्तर प्रदेश से ज्यादा से ज्यादा लोग जुड़ सकें।
उन्होंने आगे बताया कि हमारे स्टेट अर्थात उत्तर प्रदेश को फोकस स्टेट के रूप में दर्जा दिया गया है जिसमें 2 स्टेट जोकि उत्तर प्रदेश तथा केरल हैं।

मुख्य सचिव ने कहा कि माननीय केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री भारत सरकार पीयूष गोयल जी ने जब अंतराष्ट्रीय व्यापार मेले का उद्घाटन किया था तो उन्होंने उत्तर प्रदेश के बारे में बताया कि उत्तर प्रदेश में इतनी विविधताएं एवं संभावनाएं हैं कि चाहे वह टूरिज्म हो या इंडस्ट्री अर्थात उद्योग हो यह हर तरह की संभावनाओं से भरा हुआ और आज के समय में सबसे बड़ी एक सकारात्मक ऊर्जा का माहौल भी उत्तर प्रदेश में बना हुआ है

मुख्य मुख्य सचिव ने अपने संबोधन में आगे कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी ने उत्तर प्रदेश में 10 लाख करोड़ का इन्वेस्टमेंट का टारगेट रखा है, हम इन्वेस्टर समिट करने जा रहे हैं जिसमें अपने देश के लोगो के साथ-साथ दुनिया भर के लोगों को भी आमंत्रित करेंगे।

मुख्य सचिव ने बताया कि उत्तर प्रदेश में जितनी भी हमारी पॉलिसी है जैसे कि हाल ही में इंडस्ट्री की पॉलिसी हो या एमएसएमई की पॉलिसी हो या अन्य पॉलिसी हो सभी पॉलिसी को रिवाइज किया गया है सबको रिव्यू किया गया है जिसके द्वारा हम देश में अच्छी से अच्छी पॉलिसी बना रहे हैं जिससे इन्वेस्टर को ऐसा माहौल मिले जिससे कि इन्वेस्टर ज्यादा से ज्यादा उत्तर प्रदेश में इन्वेस्ट कर सके क्योंकि हमारा इंफ्रास्ट्रक्चर वर्तमान समय में अच्छा बन गया हैै और उत्तर प्रदेश में वर्तमान समय में 6 एक्सप्रेसवे बनाए गए हैं तथा 7 एक्सप्रेस-वे पर अभी काम चल रहा है हमारे यहां पांच-पांच शहरों में मेट्रो चल रही है तथा 9 स्थानों से एयरपोर्ट के द्वारा देश के 50 डेस्टिनेशन जुड़े हुए हैं। उन्होंने कॉरिडोर का जिक्र करते हुए कहा कि सबसे बड़ा फ्रेड कॉरिडोर का हिस्सा उत्तर प्रदेश में जाता है जो कि दोनों दादरी में कटते हैं उन्होंने उत्तर प्रदेश के बनारस का जिक्र करते हुए कहा कि बनारस से लेकर हल्दिया तक वॉटरवेज भी उत्तर प्रदेश में है जोकि इन्वेस्टमेंट इंफ्रास्ट्रक्चर को बढावा देकर उत्तर प्रदेश में इन्वेस्टमेंट को फोकस करने एक जरिया है, जोकि उत्तर प्रदेश में इन्वेस्टमेंट के लिए पॉजिटिव माहौल बनाने का कार्य करता है तथा जो उत्तर प्रदेश में इनवेस्टर आएंगे उनको नोएडा, ग्रेटर नोएडा, यमुना अथॉरिटी से जानकारी भी दी जाएगी जिसके द्वारा इन्वेस्टर का स्वागत करते हुए इन्वेस्टमेंट से संबंधित जानकारी भी देंगे और ज्यादा से ज्यादा इन्वेस्टमेंट कराने की कोशिश एवं उनकी मद्द करेंगे जिससे उत्तर प्रदेश की इकोनमी को अगले 5 साल में 4 गुना बढ़ाने का कार्य किया जा सके।
उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश मंडप में जितने भी स्टॉल लगे हुए हैं उनसे बात करने पर ऐसा प्रतीत होता है कि उनके अंदर इन्वेस्टमेंट करने का एक बड़ा उत्साह है क्योंकि उत्तर प्रदेश एक बदलता हुआ प्रदेश है उन्होंने प्रधानमंत्री की प्रशंसा करते हुए कहा कि माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में इस समय अमृत काल प्रारंभ हो गया है जो कि विकसित देश बनाने के लिए उत्तर प्रदेश भी एक नया उत्तर प्रदेश विकसित होने जा रहा है।

उत्तर प्रदेश में विभिन्न जनपदों से आडीओपी के माध्यम से उत्तर प्रदेश मंडप में 101 स्टॉल्स लगाये गए हैं
इस अवसर पर अपर मुख्य सचिव एमएसएमई श्री अमित मोहन प्रसाद, आयुक्त एवं निदेशक, एमएसएमई श्री मयूर महेश्वरी, मुख्य कार्यापालक अधिकारी नोएडा रितु महेश्वरी, यमुना नोएडा विकास प्राधिकरण डॉ अरूण वीर सिंह, उत्तर प्रदेश शासन के स्थानिक आयुक्त रिग्जियान सैंफल, अपर स्थानिक आयुक्त सौम्य श्रीवास्तव जिला अधिकारी गाजियाबाद राकेश कुमार सिंह, उत्तर प्रदेश शासन एवं प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारीगण एवं गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित रहे।


Discover more from VSP News

Subscribe to get the latest posts sent to your email.

Leave a Reply