NATIONAL POLITICAL

शिरोमणि अकाली दल के प्रतिनिधि मंडल ने की राष्ट्रपति से मुलाकात, कृषि बिलों पर हस्ताक्षर नहीं करने का किया अनुरोध 

सोमवार को सुखबीर सिंह बादल के नेतृत्व में शिरोमणि अकाली दल  के अधिवेशन ने राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद से मुलाकात की और उनसे राज्यसभा द्वारा पारित कृषि बिलों पर हस्ताक्षर नहीं करने का अनुरोध किया।

बादल ने मीडिया को कहा की, “शिरोमणि अकाली दल के एक प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति से मुलाकात की और उनसे ‘किसान विरोधी’ बिलों पर हस्ताक्षर नहीं करने का अनुरोध किया है, जिन्हें राज्यसभा में बलपूर्वक पारित किया गया था। हमने उनसे अनुरोध किया कि वह संसद को बिल वापस भेजें।”
इससे पहले,  हरसिमरत कौर बादल ने इन बिलों को लेकर केंद्रीय मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था। कांग्रेस सांसद शक्तिसिंह गोहिल ने कहा कि बारह विपक्षी दलों ने रविवार को राज्यसभा में पारित कृषि बिलों को स्वीकृति नहीं देने का अनुरोध करने के लिए राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद से मिलने का समय मांगा है। उन्होंने कहा कि पार्टियों ने इन विधेयकों के बारे में राष्ट्रपति से मिलने का समय मांगा है। गोहिल ने मीडिया को बताया की, “12 पार्टियों ने राष्ट्रपति से मिलने के लिए समय मांगा है।
राज्यसभा द्वारा कल बिना किसी वोट के राज्यसभा में पारित किए गए विधेयकों के संबंध में पार्टियों ने राष्ट्रपति से अनुरोध किया है।” विपक्ष के विरोध के बावजूद, ‘किसानों और उत्पादन व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सुविधा) विधेयक, 2020 और मूल्य आश्वासन और कृषि सेवा विधेयक, 2020 पर किसानों (सशक्तीकरण और संरक्षण) समझौते को संसद द्वारा पारित किया गया।

Discover more from VSP News

Subscribe to get the latest posts to your email.

Leave a Reply