RELIGIOUS

वर्तमान मे समय में सच्चा भक्त वही जो गुरु को समस्या में न डाले सुधासागर जी- मुनि पुंगव सुधासागर जी

बिजोलिया  राजस्थान:  तपोदय तीर्थ बिजौलिया में अपने उदबोधन में मुनि पुंगव सुधासागर जी महाराज ने कहा है कि मेरा सच्चा भक्त वही है जो अपनी भक्ति का दिखावा न करतै हुए गुरु को समस्या में न डाले।

उन्होंने कहा लोग गलत तरीके से नेगेटिव रिपोर्ट लेकर गुरुओं के दर्शन को पहुच रहे है जबकि समय अतिसवेदनशील है। लोगो को समझना चाहिए कि वे अवैध तरीके से या अपने धन बाहुबल और प्रतिष्ठा के बल पर गुरुओं से मिलकर अपनी भक्ति का प्रदर्शन न करे।

उन्होंने कहा अगर भक्त सच में चाहते है कि गुरु का साथ समाज को मिलता रहे तो इस समय गुरुओ के स्वस्थ्य रहने की कामना करने वाला ही सच्चा भक्त है। उन्होंने उदाहरण के माध्यम से समझाया कि अगर किसी की रिपोर्ट नेगेटिव है इसका मतलब यह नही वह किसी सकम्रण का शिकार नही हो सकता। आज नेगेटिव रिपॉर्ट वाला कल बुखार से होकर कोरोना पॉजीटीव हो सकता है

ऐसे समय मे समाज और कमेटियों को चाहिए कि वे 14 दिन के क्वारेटाइन के नियम की पालना करवाए।उन्होंने भक्तो से कहा कोरोना बडी सीधी (गम्भीर) बीमारी है जो कहती है तुम मेरे पास मत आओ मैं तुम्हारे पास नही आऊंगी। इतिहास मे इतनी सीधी बीमारी कभी नही आई। लोग अनावश्यक आवागमन करके खुद की जान के साथ दुसरो की जान को संकट में डाल रहे हैं। किसी कारण अगर जैन दिगबर साधु सन्त अस्वस्थ्य हो जाए तो वे तो इलाज भी नही करवा सकते।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *