CRIME POLITICAL States

राजस्थान: मंदिर के पुजारी को ज़िंदा जलाया, हुई मौत, मुख्य आरोपी गिरफ्तार

करौली जिले के बोकना गांव में मंदिर की जमीन पर अतिक्रमण के दौरान कुछ लोगों द्वारा कथित रूप से जिंदा जलाने के बाद एक मंदिर के पुजारी ने गुरुवार की रात को दम तोड़ दिया। पुलिस ने इस घटना के सिलसिले में मुख्य आरोपी को गिरफ्तार कर लिया, मुख्य आरोपी की पहचान कैलाश मीणा के रूप में हुई है।

पुलिस अधीक्षक (एसपी), करौली, मृदुल कच्छावा के अनुसार, घटना के 24 घंटे के भीतर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया। सपोटरा पुलिस स्टेशन में दर्ज एफआईआर में पुजारी ने कहा था कि वह अपने परिवार के साथ मंदिर परिसर के भीतर जमीन पर खेती करते थे। कैलाश मीणा जमीन हड़पना चाहते थे और गुरुवार को वह आए थे और जमीन के टुकड़े पर एक तम्बू बना रहे थे। पुजारी द्वारा रोके जाने पर, उन्होंने खेत में लगाए गए तंबू के एक हिस्से को जला दिया, जिसमें पुजारी उलझा हुआ था और बुरी तरह जल गया था।

एसपी के अनुसार, आरोपी को दबोचने के लिए करौली में एडिशनल एसपी प्रकाश चंद की देखरेख में कई टीमें बनाई गई थीं। त्वरित कार्रवाई के कारण, मुख्य आरोपी को 24 घंटे के भीतर गिरफ्तार कर लिया गया, जबकि अन्य की तलाश अभी भी जारी है।

इस बीच, राज्य की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ने इस घटना की निंदा की है और राज्य सरकार से “अपने नींद से जागने और दोषियों को सख्त सजा सुनिश्चित करने का आग्रह किया है।” “करौली जिले के सपोटरा में एक पुजारी को जिंदा जलाने की घटना बेहद निंदनीय है। इसके लिए किसी भी तरह का दुःख पर्याप्त नहीं है। इससे एक बात तो साफ है कि राजस्थान का अपराध का ग्राफ बढ़ता जा रहा है।

राजे के ट्वीट में लिखा है,”कोई भी महिला, बच्चा, वरिष्ठ नागरिक, दलित, व्यापारी अब सुरक्षित नहीं हैं। राज्य की कांग्रेस सरकार को अपनी गहरी नींद से उठना चाहिए और पीड़ित परिवार को न्याय सुनिश्चित करते हुए दोषियों को सख्त सजा दिलानी चाहिए।”

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *