Delhi POLITICAL

केजरीवाल के खिलाफ नमो साइबर वारियर्स का आप कार्यालय के बाहर प्रचंड विरोध प्रदर्शन

आम जनता की बात करने वाले केजरीवाल का पॉलीग्राफ लाई डिटेक्टर टेस्ट पूरे पब्लिक के सामने हो-रोहित उपाध्याय

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के इशारे पर सत्येन्द्र जैन ने महाठग सुकेश चंद्रशेखर से पैसे लेकर भ्रष्टाचार करने का जो कारनामा किया है, उसके खिलाफ आज दिल्ली के सभी वार्डों पर नमो साइबर वारियर्स ने प्रचंड विरोध प्रदर्शन किया। इसी कड़ी में आज आम आदमी पार्टी के कार्यालय के बाहर हुए विरोध प्रदर्शन में नमो साइबर वरियर्स ने केजरीवाल को पॉलीग्राफ लाई डिटेक्टर टेस्ट पूरे पब्लिक का सामने करने की मांग की है।

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला और प्रदेश सोशल मीडिया प्रमुख डॉ. रोहित उपाध्याय के नेतृत्व में हाथों में होर्डिग्स लेकर किए गए इस विरोध प्रदर्शन में नमो साइबर वारियर्स ने केजरीवाल लगातार भ्रष्टाचार कर दिल्ली के खज़ाने को लूटने और विज्ञापन और झूठ पर आधारित सरकार का प्रचार करने में व्यस्तता को उजागर किया। शहजाज पूनावाला ने कहा कि ऐसी कोई जगह नहीं है जहां केजरीवाल ने ठगा नहीं है। अपने तीन यारों के साथ मिलकर केजरीवाल ने पैसे लेने का काम किया।

शहजाद पूनावाला ने केजरीवाल, सत्येन्द्र जैन और कैलाश गहलोत के इस्तीफे की मांग करते हुए कहा कि केजरीवाल आज एक ऐसी सरकार चला रहे हैं जिसका हर विभाग भ्रष्टाचार में डूबा हुआ है। यही कारण है कि जब जनता उनसे दिल्ली में किए गए कार्यों का हिसाब मांग रही है तो उन्हें बोलने के लिए कुछ नहीं मिल रहा है। जबकि दूसरे राज्यों में जाकर अपने भ्रष्टाचारों को बताने की जगह झूठा प्रचार कर रहे हैं।  

डॉ. रोहित उपाध्याय ने मांग करते हुए कहा कि आम जनता की बात करने वाले केजरीवाल का लाई डिडेक्टिव टेस्ट जनता के सामने हो ताकि उनकी दोहरी नीति और ईमानदारी की चादर ओढ़ेने की सच्चाई आम जनता के सामने आए। उन्होंने कहा कि केजरीवाल का अभी तक चार-चार लेटर बम फूटने के बाद भी चुप रहना बताता है कि उनकी प्लानिंग पूरी तरह से फेल हो गई है और जब सच्चाई बाहर आ गई है तो बोलने के लिए शब्द नहीं है। क्योंकि एक ऐसा मुख्यमंत्री जो हर छोटी-बड़ी बात को बढ़ा चढ़ाकर प्रचार करता है आज जेल में बैठा एक ठग उसपर आरोप लगा रहा है और वह चुप बैठे हैं।

Rishabh Jain
Writer, Journalist and a Good Person
https://vspnews.in/

Leave a Reply