Uttar Pradesh

कर्मचारियों के वेतन का भुगतान ईएसआईसी से कराए सरकार : एनईए

नौएडा एन्ट्रेप्रिनियोर्स एसोसिएशन (NEA) के पदाधिकारियो ने आज दिनांक 20.04.2020 को विडियो कान्फ्रेसिंग द्वारा एक मीटिंग की गई। इस मीटिन मे वर्तमान समय में उपजे संकट पर चर्चा की गई । सरकार द्वारा उठाये गये कदमों की प्रशंसा करते हुए एनईए अध्यक्ष श्री विपिन कुमार मल्हन ने कहा कि “माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के द्वारा समय पर लिये गये लॉक डाउन के निर्णय एंव कुशल रणनीति के कारण भारत तमाम विकासशील देशों की तुलना में बहुत बेहतर स्थिति में हैं। आज विश्व उनके द्वारा लिये गये निर्णयों को सराह रहा है। हम सभी उद्यमियों की ओर से उन्हें धन्यवाद देते है।” मीटिंग में उद्यमियों द्वारा चिंता व्यक्त की गई की लॉक डाउन समय सीमा समाप्त होने के बाद उद्योगों को सुचारू रूप से चलाने में कई माह का समय लगेगा, साथ ही उन परिस्थितियों से उबरने में उद्योगों को काफी वित्तीय मदद की भी आवश्यकता होगी । श्रमिकों के भारी संख्या में पलायन के बाद उनके पुनः आने तक इन्तजार करना या नये श्रमिकों को भर्ती करके उन्हें ट्रेंड करना भी बडी चुनौती होगी । अतः एनईए ने एम0एस0एम0ई0(MSMEs) सैक्टर के उद्यमियों की ओर सरकार का ध्यान दिलाते हुए कुछ मॉग रखने का प्रस्ताव रखा जिसमें मुख्य रूप से –

  1. लॉक डाउन अवधि में बैंक द्वारा लिये जाने वाला ब्याज पूर्णतः माफ होना चाहिए।
  2. लॉक डाउन अवधि में कर्मचारियों को दिये जाने वाले वेतन का भुगतान ई0एस0आई0सी0 (MSMEs) द्वारा कराया जाए।
  3. लॉक डाउन अवधि में इलैक्ट्रीसिटी बिल में लगने वाले फिक्स चार्ज को मॉफ किया जाना चाहिए।
  4. लॉक डाउन अवधि में प्राधिकरण द्वारा लिये जाने वाले लीज रेंट को माफ किया जाना चाहिए।
  5. लॉक डाउन अवधि समाप्त होने के बाद बैंक द्वारा एक साल तक का ब्याज मुक्त ऋण उपलब्ध कराया जाए, जिससे एम.एस.एम.ई. (MSMEs) सैक्टर पुनः मजबूती के साथ आगे बढ़ सके ।

सरकार के राजस्व एंव रोजगार देने में अपना महत्वपूर्ण योगदान देने वाला सम्पूर्ण एम.एस.एम.ई. (MSMEs) सैक्टर पहले से ही वैश्विक मंदी की मार से टूटा हुआ है उस पर कोरोना जैसी महामारी के कारण हुए लॉक डाउन से भारी नुकसान की स्थिति में है । अतः ऐसे समय में हम सरकार से उम्मीद लगाये हैं कि हमें भी सरकार द्वारा राहत प्रदान कर हमारी मदद की जाए । हम विश्वास दिलाते हैं कि हम पुनः आगे बढेगें और देश की अर्थव्यवस्था में अहम भूमिका निभायेगें ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.