RELIGIOUS

आचार्य अतिवीर जी के सान्निध्य में सोनीपत में धर्मप्रभावना

हरियाणा की पुण्यधरा पर धर्मनगरी सोनीपत में प्रशममूर्ति आचार्य श्री 108 शान्तिसागर जी महाराज (छाणी) परंपरा के प्रमुख संत परम पूज्य आचार्य श्री 108 अतिवीर जी मुनिराज के प्रथम बार मंगल आगमन से समस्त समाज में हर्षोल्लास व उमंग का माहौल बना रहा| श्री  शान्तिनाथ दिगम्बर जैन मन्दिर, मिशन रोड, मण्डी पधारने पर भारी संख्या में उपस्थित गुरुभक्तों ने भावभीना स्वागत किया तथा जयकारों से समस्त वातावरण गुंजायमान कर दिया| आचार्य श्री के पावन सान्निध्य में यहाँ दिनांक 18 मई 2023 को श्री  शान्तिनाथ भगवान के जन्म-तप-मोक्ष कल्याणक महोत्सव का भव्य आयोजन श्री जगदीश जैन सपरिवार द्वारा सानंद संपन्न हुआ जिसमें भक्तों ने श्री  शान्तिनाथ महामण्डल विधान के साथ श्रीजी के चरणों में निर्वाण लाडू अर्पित किया|

दिनांक 20 से 27 मई 2023 तक पूज्य आचार्य श्री के परम पावन सान्निध्य में श्री 1008 कल्पद्रुम महामण्डल विधान एवं विश्वशान्ति महायज्ञ का विराट एवं भव्य आयोजन व्यापक धर्मप्रभावना के साथ आयोजित किया गया| समस्त मांगलिक क्रियायें पं. अमन जैन शास्त्री (मुंगावली) के विधानाचार्यत्व में विधि-विधान पूर्वक संपन्न हुईं| श्री सुभाष जैन (सी.ए.) सपरिवार द्वारा आयोजित इस महाअनुष्ठान में भारी संख्या में धर्मानुरागी बंधुओं ने सम्मिलित होकर धर्मार्जन किया| अत्यंत मनोरम तथा दर्शनीय अकृत्रिम निर्मित विशाल समवशरण के समक्ष इन्द्रों से भरी धर्मसभा को संबोधित करते हुए पूज्य आचार्य श्री ने श्री कल्पद्रुम विधान का महात्म्य समझाया तथा बताया कि किस प्रकार कुबेर अपने समस्त सम्पदा का वैभव तीर्थंकर भगवंतों के समवशरण में लगा देता है।

आचार्य श्री ने आगे कहा कि अमूल्य रत्नों से निर्मित किया जाता है समवशरण का चबूतरा जिसके आगे दुनिया का समस्त वैभव फींका लगने लगता है। केवल भव्य जीव ही भगवान के समवशरण में प्रवेश पाते हैं। इस विधान के माध्यम से हमें अपने कर्मों की निर्जरा का पुरुषार्थ कर परम पद की प्राप्ति हेतु प्रयास करना चाहिए। धर्मनगरी सोनीपत में आचार्य श्री का अनेक श्वेताम्बर संतों से मंगल वात्सल्य मिलन हुआ| उल्लेखनीय है कि दिनांक 28 मई 2023 को आचार्य श्री का दिल्ली की ओर मंगल विहार प्रारम्भ हुआ| आचार्य श्री के सान्निध्य में तथा स्याद्वाद महिला मंडल (मध्य दिल्ली) के तत्वावधान में श्री दिगम्बर जैन बड़ा मन्दिर, कूंचा सेठ, चांदनी चौक (दिल्ली) में 35 दिवसीय णमोकार पाठ का भव्य समापन समारोह दिनांक 4 जून 2023 को आयोजित किया जायेगा| इस अवसर पर आचार्य श्री आगामी चातुर्मास 2023 की मंगल घोषणा भी करेंगे|


Discover more from VSP News

Subscribe to get the latest posts to your email.

Leave a Reply